• Learn astrology with astrology masters
  • Tips on improving life
  • How to achieve success in life with astrology
  • Secrets & mysteries of astrology

शनि गोचर 2019 राशिफल और उपाय

शनि गोचर 2019 शनि गोचर 2019 में बात करते हैं वर्ष 2019 में होने वाले शनि के राशि परिवर्तन का जो कि ज्योतिष शास्त्र में सबसे महत्वपूर्ण माना गया है। वैदिक ज्योतिष में शनि प्रभावशाली ग्रह माना जाता रहा है। फिर चाहे वो शनि की ढ़ैय्या हो या साढ़ेसाती जातक के जीवन में इसका व्यापक प्रभाव पड़ता ही है। शनि को पापी व क्रूर ग्रह के तौर पर भी देखा जाता है लेकिन असल में शनि स्वभाव से ऐसा नहीं है। शनि न्यायप्रिय ग्रह है, जो मनुष्य जीवन में जैसा कर्म करता है उसे शनि वैसा ही फल प्रदान करते हैं। हालांकि शापित होने के कारण ये देखा गया हैं कि जिस पर भी शनि की दृष्टि पड़ती हैं उनका अनिष्ट होता है और शायद इस कारण ही शनि की छवि एक क्रूर ग्रह के रूप में बन गई है।

शनि की बुध, शुक्र व राहु के साथ घनिष्ट मित्रता हैं तो वहीं सूर्य, चंद्रमा व मंगल के साथ इनकी शत्रुता है। बृहस्पति और केतु के साथ शनि के संबंध सामान्य हैं। शनि मकर व कुंभ राशि का स्वामी है। यह माना गया है कि एक राशि में शनि लगभग ढ़ाई वर्ष यानि 30 महीने तक रहते हैं। इस कारण से भी शनि का गोचर काफी अहम होता है। इस लेख में आप शनि ग्रह की चाल के बारे में तो विस्तार से जानेंगे ही, साथ ही आप ये भी जानेंगे कि साल 2019 में आपकी राशि पर शनि के गोचर का क्या प्रभाव पड़ेगा और इससे संबंधित उपाय।

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें चंद्र राशि कैल्कुलेटर से अपनी चंद्र राशि

मेष

शनि गोचर 2019
  • मेष राशि वाले लोगों के लिए शनि दशम और एकादश भाव का स्वामी है।
  • ये दोनों भाव क्रमश: व्यवसाय, आमदनी, वृद्धि और कर्म आदि से संबंधित होते हैं।
  • साल 2019 में शनि गोचर के समय आपको संयम के साथ काम लेना होगा, क्योंकि यही वो समय हैं जो आपको परेशान कर सकता है।
  • हालांकि विनम्र और धैर्य रखने पर यह समय आसानी से बीत जाएगा।
  • हर परिस्थिति में मेहनत और कोशिश करते रहें।
  • शनि गोचर के दौरान आप सफलता प्राप्त कर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको लगातार प्रयास और कड़ा परिक्षम करना होगा।
  • जून महीने तक आपके जीवन में वृद्धि की रफ्तार थोड़ी सुस्त रह सकती है, लेकिन जून से अक्टूबर के बीच आपको अपने करियर और आय में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।
  • हालांकि अक्टूबर के बाद परिस्थितियों में बदलाव जरूर आएगा जिससे आपको भाग्य का पूरा साथ भी मिलेगा।
  • इस अवधि में आप हर तरह की प्रतिस्पर्धा में सफल होंगे।
  • साथ ही आप अपने विरोधियों पर विजय भी प्राप्त कर पाएंगे।
  • शनि के गोचर के दौरान आपको अपने बड़े भाई-बहनों की सेहत पर अधिक ध्यान देने की सलाह दी जाती है।

उपाय: रोज़ गाय को घी लगी रोटी खिलाएं।

वृषभ

शनि गोचर 2019
  • वृषभ राशि के लिए वर्ष 2019 में शनि देव नवम और दशम भाव के स्वामी हैं।
  • ज्योतिषियों के अनुसार ये भाव भाग्य, प्रसिद्धि, व्यवसाय और कर्म को दर्शाते हैं।
  • 2019 में शनि का राशि परिवर्तन वृषभ राशि वालों के लिए काफी अच्छा साबित होने वाला हैं।
  • जून से अक्टूबर का समय आपके करियर के लिए सबसे अनुकूल समय सिद्ध होगा।
  • हालांकि अक्टूबर के बाद आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है।
  • अक्टूबर के बाद का समय निवेश के लिए बिल्कुल सही नहीं होगा।
  • इस दौरान भाग्य बिलकुल आपके साथ नहीं होगा जिससे आपको धन हानि हो सकती है।
  • इस साल आपको अपने बच्चों की शिक्षा पर भी ज्यादा ध्यान देने की जरुरत होगी।
  • आपको सलाह दी जाती है कि इस साल अपने परिवार को अधिक समय दें, ख़ासतौर पर जीवनसाथी को।
  • बिना फ़साद किसी से बैर नहीं लें अन्यथा आपके दूसरों से रिश्ते खराब हो सकते हैं।
  • शनि गोचर काल के दौरान पिता की देखभाल करें तथा उनकी आज्ञा को अपनी पहली प्राथमिकता समझें।

उपाय: काले कपड़े और काले जूते का दान करें।

मिथुन

शनि गोचर 2019
  • मिथुन राशि के जातकों के लिए इस साल शनि अष्टम और नवम भाव का स्वामी होगा।
  • ये भाव दीर्घायु, बड़े परिवर्तन, भाग्य और प्रसिद्धि को दर्शाता है।
  • साल 2019 में शनि गोचर मिथुन राशि वालों के लिए बेहद लाभकारी साबित होगा।
  • इस वर्ष आपके कई छोटे-बड़े सभी विवाद खत्म हो जाएंगे।
  • कानूनी मामलों के लिए भी ये साल अच्छा रहने वाला है, भाग्य के पूरे साथ होने से कोई फैसला आपके पक्ष में आने का योग बन रहा है।
  • शनि की अपार कृपा से आपके जीवन में उन्नति होगी।
  • इस पूरे साल आपके पारिवारिक जीवन में खुशियां आएंगी जिससे घर में प्रसन्नता का वातावरण रहेगा।
  • शनि के गोचर के दौरान किसी भी तरह का निवेश सफल रहेगा।
  • इस साल शनि गोचर काल के समय आपको किसी भी तरह की आर्थिक हानि नहीं होगी।
  • इस साल निजी और पेशेवर जीवन में खुशियाँ आने से आप अपने दोस्तों और परिजनों के साथ अच्छा समय गुजारेंगे।
  • दूसरों संग समय व्यतीत करने से आप अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में संतुलन स्थापित करने में भी सफल होंगे।
  • हालांकि इस साल आपकी माता की सेहत गिर सकती है, इसलिए आपको उनकी देखभाल करने की सलाह दी जाती है।

उपाय: हाथ की मध्य अंगुली में काले घोड़े की नाल की अंगूठी पहनें।

कर्क

शनि गोचर 2019
  • कर्क राशि वालों के लिए शनि सप्तम और अष्टम भाव के स्वामी हैं।
  • जहाँ सप्तम भाव विवाह, जीवनसाथी और साझेदारी को दर्शाता है तो वहीं अष्टम भाव बड़े परिवर्तन और दीर्घायु से सम्बंधित होता है।
  • शनि गोचर की अवधि में इस साल बेवजह के विवादों से बचें।
  • इस समय आपके स्वास्थ्य के लिए भी अशुभ संकेत मिल रहे हैं।
  • शनि के प्रभाव के चलते इस साल आपको लगातार यात्राएं करनी पड़ सकती है।
  • शनि के प्रभाव से कर्क राशि वालों को इस साल मानसिक तनाव का सामना भी करना होगा।
  • किसी भी तरह के विवाद से बचने के लिए किसी के लिए भी कटु शब्दों का इस्तेमाल न करें।
  • विषम परिस्थितियों में धैर्य और संयम से काम लें।
  • जितना हो उतना दोस्तों संग समय बिताएं।
  • घर या कार्यस्थल पर बेकार के काम और विवादों में न उलझे।
  • हर परिस्थिति में अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखें।
  • इस साल आपको बेहतर प्रबंधन के साथ चलने की ज़रूरत हैं।

उपाय: सात तरह के अनाज पक्षियों को खिलाएं।

सिंह

शनि गोचर 2019
  • सिंह राशि वालों के लिए शनि देव षष्ठम और सप्तम भाव के स्वामी होते हैं।
  • जहाँ छठा भाव संघर्ष, शत्रु और रोग को दर्शाता हैं तो वहीं सातवां भाव विवाह, जीवनसाथी और साझेदारी से संबंधित होता है।
  • 2019 में अपने बेवजह के ख़र्चों पर काबू रखें।
  • जितना हो उतना पैसों की बचत करें ताकि आने वाले कल को संवार सकें।
  • व्यावसायिक लोगों के लिए ये साल एकदम अच्छा रहने वाला है, क्योंकि इस साल आपको व्यापार में कई अच्छे अवसर मिलेंगे।
  • नया व्यवसाय शुरू करने के लिए भी ये साल बेहद लाभकारी साबित होने वाला है।
  • नौकरी पेशा लोगों को इस साल पदोन्नति की सौगात मिलने का योग बन रहा है।
  • इस साल आपका स्वास्थ्य बिलकुल ठीक रहेगा।
  • हालांकि सेहतमंद रहने के लिए आपको संयमित दिनचर्या का पालन करना होगा।
  • शनि गोचर के समय विद्यार्थियों को कोई बड़ी सफलता मिलने की उम्मीद है।
  • इस साल आपको दोस्तों और परिजनों के साथ यात्रा करने का अवसर भी मिलेगा।
  • शनि गोचर के दौरान आप परिजन, दोस्तों, जीवनसाथी व बच्चों के साथ अच्छा और ज्यादा समय व्यतीत करेंगे जिससे आपके रिश्तों में मजबूती भी आएगी।
  • अविवाहित लोग इस साल शादी के बंधन में बंध सकते हैं।

उपाय: पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का एक दीया जलाएं।

कन्या

शनि गोचर 2019
  • कन्या राशि के जातकों के लिए शनि देव पंचम और षष्ठम भाव के स्वामी हैं।
  • ये भाव कर्म, शिक्षा, पितृत्व, रोग, संघर्ष और शत्रुओं से संबंधित होता है।
  • इस वर्ष शनि गोचर की अवधि के समय आप अपने घर में परिवर्तन कर सकते हैं।
  • इस साल करियर के क्षेत्र में भी आपको उन्नति और वृद्धि देखने को मिलेगी।
  • हालांकि परिक्षम के दौरान असंयमित दिनचर्या और ज्यादा तनाव आपके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर डालेगा।
  • स्वस्थ रहने के लिए आपको नियमित रूप से योग और व्यायाम करने की सलाह दी जा रही है।
  • आर्थिक तंगी से बचने के लिए इस साल हर तरह के निवेश से बचें।
  • इस साल प्रॉपर्टी से जुड़े मामलों में विवाद की स्थिति बनने का योग बनता दिख रहा है।
  • लेकिन तमाम चुनौतियों के बीच इस साल छात्रों को बड़ी सफलता मिल सकती है।
  • ईश्वर की पूजा और सत्संग कार्यक्रमों में शामिल होने से लाभ मिलेगा।

उपाय: हर शनिवार हनुमान जी को सिंदूर चढ़ाएं।

तुला

शनि गोचर 2019
  • तुला राशि वालों के लिए शनि देव चतुर्थ और पंचम भाव के स्वामी हैं।
  • ये भाव कर्म, माँ, हर्ष, वाहन, शिक्षा, पितृत्व आदि को दर्शाता है।
  • इस राशि के जातकों के लिए शनि योग कारक ग्रह है, जो बेहद लाभकारी है।
  • इस वर्ष के शनि गोचर प्रभाव से छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा में कई अच्छे अवसर मिल सकते हैं।
  • यदि आप व्यापारी हैं तो इस साल आप अपने बिजनेस को विस्तार दे सकते हैं।
  • इस वर्ष आपके आत्मविश्वास में वृद्धि होगी जिसका प्रभाव आपकी प्रोफेशनल लाइफ में लाभकारी होगा।
  • यदि कहीं निवेश करने का सोच रहे हैं तो इस साल सबसे बेहतर रिटर्न प्राप्त होंगे।
  • साल 2019 में आपकी स्मरण शक्ति और इच्छा बल में कमाल की वृद्धि होगी।
  • शनि गोचर की अवधि के दौरान आपको पैसों के मामलों में मिश्रित परिणाम मिलेगा।
  • हालांकि इस साल आपकी आमदनी और खर्च दोनों में बढ़ोत्तरी होगी।
  • इस साल आपका लंबी यात्रा का योग बन रहा है.
  • साथ ही शनि की कृपा से आपका स्वास्थ्य बिलकुल ठीक रहेगा।

उपाय: बंदर और कुत्तों को लड्डू खिलाएं।

वृश्चिक

शनि गोचर 2019
  • वृश्चिक राशि वालों के लिए शनि देव तृतीय और चतुर्थ भाव के स्वामी हैं।
  • ये दोनों भाव प्रयास, माँ, भाई-बहन, संचार और हर्ष से संबंधित होते हैं।
  • साल 2019 में सफलता, धन और समृद्धि पाने के लिए आपको कड़ा परिश्रम और बार-बार प्रयास करना होगा।
  • इस वर्ष आपको करियर में बेहतर अवसर मिल सकते हैं।
  • आपको काम के लिए विदेश यात्रा जाने का भी अवसर मिल सकता है।
  • हालांकि इन अवसरों का लाभ आप कैसे उठाते हो ये सब आप पर ही निर्भर करेगा।
  • निवेश संबंधी मामलों में भी सफलता मिलने का योग बन रहा है, जिससे निवेश से जुड़े मामलों में अच्छी सफलता मिलेगी।
  • शनि गोचर के समय आपको परिवार से जुड़े विवाद और मामलों से दूर रहने की सलाह दी जा रही है।
  • यदि आप किसी भी तरह के विवाद में उलझते हैं तो इससे आप अपने रिश्ते प्रभावित कर बैठेंगे।
  • कुछ भी बोलने से पहले ठीक से सोच विचार करें और अपने क्रोध पर काबू रखें अन्यथा हानि होगी।
  • इस साल संभावित हैं कि आपको अपने प्रियजनों से दूर रहना पड़े।
  • हालांकि आप विभिन्न माध्यमों से उनके साथ संपर्क बनाकर ये दूरियां काफी हद तक काम कर सकते हैं।

उपाय: रोगियों और गरीबों की सेवा करें।

धनु

शनि गोचर 2019
  • धनु राशि के लिए शनि देव द्वितीय और तृतीय भाव के स्वामी हैं।
  • ये भाव क्रमशः, परिवार, प्रयास, भाषा, धन, भाई-बहन, और संचार से संबंधित होते हैं।
  • इस साल शनि आपकी ही चंद्र राशि में प्रवेश यानी गोचर कर रहा है इसलिए इसका गहरा प्रभाव आपके जीवन पर भी पड़ेगा।
  • शनि गोचर अवधि में कोई निवेश संबंधी योजना बनाना लाभदायक होगा।
  • आपको इस साल अपनी भाषा पर नियंत्रण रखने की ज़रूरत है।
  • वैवाहिक जीवन में भी बेहद सतर्क रहने की जरुरत होगी, क्योंकि इस साल जीवनसाथी के साथ आपके रिश्ते प्रभावित होने का योग बनता दिख रहा है।
  • वैवाहिक जीवन में आ रहे सभी बदलावों में शांति और धैर्य से फैसला लें।
  • यदि आप अपने काम को पूरी ईमानदारी के साथ करते हैं तो इस अवधि में आप अच्छा कार्य करेंगे जिससे आपको भी खुशी होगी।
  • आवश्यकता से अधिक कार्य भी आपको तनाव दे सकता है।
  • इसलिए जब भी समय मिले परिवार या मित्रों के साथ घूमने जाएं।
  • संतुलित भोजन और नियमित व्यायाम आपको स्वस्थ रखने में मदद करेंगे।
  • आपके जीवनसाथी को सेहत संबंधी कोई समस्या हो सकती हैं, इसलिए उनका विशेष ध्यान रखें।
  • शनि के गोचर काल में आपके भाई-बहनों को करियर के क्षेत्र में सफलता मिलेगी।

उपाय: मांसाहार और शराब का सेवन न करें।

मकर

शनि गोचर 2019
  • मकर राशि वालों के लिए शनि देव लग्न और द्वितीय भाव के स्वामी हैं।
  • कुंडली में ये भाव चरित्र, परिवार, दीर्घायु, धन, व्यक्तित्व, और भाषा से संबंधित होते हैं।
  • छात्रों को इस साल उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाना पड़ सकता है।
  • शनि के गोचर के दौरान आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण रखने की ज़रूरत होगी।
  • इस साल बजट बिगड़ने से आपको कई तरह की आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है।
  • आप कामकाज या अन्य कार्य के सिलसिले में विदेश यात्रा कर सकते हैं।
  • शनि की कृपा से इस साल करियर के क्षेत्र में आपकी उन्नति होगी।
  • नौकरी पेशा लोगों को प्रमोशन के साथ-साथ कार्यस्थल पर मान-सम्मान मिलेगा।
  • किसी भी तरह के कानूनी विवाद से इस साल दूर रहें अन्यथा आपको बड़ी हानि पहुंच सकती है।
  • स्वास्थ्य रहने के लिए केवल संतुलित और स्वच्छ भोजन के साथ नियमित रूप से व्यायाम करें।

उपाय: जटा वाले नारियल को नदी में प्रवाहित करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें।

कुंभ

शनि गोचर 2019
  • कर्म फल दाता शनि कुंभ राशि वालों के लिए लग्न और द्वादश भाव का स्वामी है।
  • ज्योतिष शास्त्र में जहाँ द्वादश भाव खर्च, हानि, चिकित्सा और शयन सुख से संबंधित होता है। तो वहीं लग्न यानि प्रथम भाव मनुष्य के चरित्र, दीर्घायु और व्यक्तित्व को दर्शाता है।
  • शनि गोचर की अवधि में आपको अपने कार्यस्थल पर अनेक अवसर मिलेंगे, जो हर मामले में आपके लिए बेहद शुभ रहेगा।
  • इस साल आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा जिससे आप खुद को पहले की तुलना में अधिक ऊर्जावान महसूस करेंगे।
  • शनि के इस प्रभाव से आपका झुकाव आध्यात्मिक कार्यों की ओर बढ़ सकता है।
  • इस साल आपको कोई बड़ा धन लाभ भी होगा।
  • गोचर अवधि में आपका अपने जीवनसाथी से कम अपेक्षा रखना ही सही होगा, इस दौरान आप उनके साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं।
  • इस वर्ष छात्र अपना अध्ययन सतत रूप से जारी रखेंगे, हालांकि इस दौरान कुछ नया होने की संभावना बेहद कम है।

उपाय: मंदिर में सरसों के तेल का दान करें।

मीन

शनि गोचर 2019
  • मीन राशि के लिए शनि देव एकादश और द्वादश भाव के स्वामी हैं।
  • एकादश भाव सफलता, वृद्धि और आय को दर्शाता है तथा द्वादश भाव हानि, खर्च, रोग और शयन सुख से संबंधित है।
  • इस वर्ष शनि गोचर की अवधि में आपको अपने परिश्रम और प्रयासों का अच्छा परिणाम मिलने की संभावना है।
  • निवेश के लिए यह साल मिश्रित है।
  • इस साल नौकरी परिवर्तन आपकी प्रोफेशनल ग्रोथ के लिए लाभकारी सिद्ध होगा।
  • शनि गोचर के समय आपको देश-विदेश की यात्रा करना पड़ सकता है।
  • आय की तुलना में खर्च बढ़नें से आर्थिक परेशानी आएँगी इसलिए फिजूलखर्ची पर नियंत्रण रखना होगा।
  • पारिवारिक और प्रेम संबंधी रिश्तों को मजबूती देने के लिए प्रियजनों के साथ समय बिताएं।
  • इस साल आपको अपने वैवाहिक जीवन पर अधिक ध्यान देने की ज़रूरत पड़ेगी।
  • जितना हो उतना जीवनसाथी के साथ विवाद होने से बचाव करें।
  • दोस्तों या परिजनों के साथ छुट्टी पर जाने के लिए यह समय शुभ है।

उपाय: हर शनिवार काले कुत्ते को रोटी खिलाएं।